सदाबहार जिसकी चमक कभी फीकी नहीं पड़ेगी

10 Books

तराना-ए-हिंदी (सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा)
आदमीनामा
कहते हो न देंगे हम दिल अगर पड़ा पाया
गोदान
मैं नास्तिक क्यों हूं?
अंधेर नगरी
हिटलर और आंचू तंबाकूवाला
नर्गिस
इन्द्रजाल
कंकाल